दोस्त की तारीफ शायरी हिंदी

हेलो जी आपका स्वागत हे इन शायरी दोस्ती की तारीफ | दोस्त की तारीफ शायरी हिंदी में।

में आपके लिए लेकर आया हु बहुत ही अच्छे शायरी दोस्ती की तारीफ और दोस्त की तारीफ शायरी हिंदी में।  

में पता नहीं दोस्तों के बारे में क्यों इतना लिखता हु ! मुझे लगता हे की ऐसा मेरे साथ नहीं बल्कि सभी के साथ ऐसा होता होगा।  क्योकि हमारे दोस्त हेही ऐसे।

जब देखो तब कुछ न कुछ विचार करते रहते हे। नहीं तो कभी गम में दुब कर हमारे साथ दिन भर ूष बारे महि बाटे करते रहते हे।  

अगर कभी आपका मुद न हो हो तो सेल आपका मुद ठीक करदेते हे।  

कभी जेम में पैसे नहीं होतो बोलते हे तू क्यों चिंता करता हे , हमारे पास बहुत पैसे हे , तू सिर्फ जलशा कर।

तो बस उन्ही दोस्तों की तारीफ करने के लिए में आज लेकर आया हु दोस्ती की तारीफ शायरी हिंदी में।

तो बस निचे दिए गए सभी शायरियो को अपने दोस्तों के लिए अच्छे से पढ़िए और अपने दोस्तों को भेजिए।


शायरी दोस्ती की तारीफ, दोस्त की तारीफ शायरी हिंदी, दोस्त की तारीफ कविता, सबसे बेस्ट दोस्ती शायरी, पुराने दोस्त पर शायरी, शायरी दोस्ती की तारीफ 2 line, dost ke liye shayari in hindi, achhe dost ke liye shayari, dost ke liye shayari


शायरी दोस्ती की तारीफ

दोस्त तुझको सोचा तो बहुत पर

लिखा कम मैंने

की तेरी तारीफ के काबिल

मेरे अल्फाज कहां

आपकी दोस्ती हमारी सुरूर का,

साज है आप जैसे दोस्त पे हमें,,

नाज है चाहे कुछ भी हो जाए दोस्ती

वैसे ही रहेगी जैसे आज है

 

 

मिलना बिछङना सब किस्मत का खेल है…

कभी नफरत तो कभी दिलों का मेल है…

बिक जाता है हर रिश्ता दुनिया में…

सिर्फ दोस्ती ही यहॉ नॉट फार सेल है

 

 

आदते अलग हे हमारी दुनिया वालो से,

कम दोस्त रखते हे मगर लाजवाब रखते है,

क्योंकि बेशक हमारी माला छोटी है,

पर फूल उसमे सारे गुलाब रखते है

हंसी की कोई कीमत नहीं होती,

कुछ दोस्तों का कोई तोल नहीं होता,

लोग तो मिल जाते हैं हर रास्ते पर,

हर कोई आपकी तरह अनमोल नहीं होता!

 

 

jannat ka raasta kyun dekhu,

jaha dost rahain vahin jannat hai,

tere dosti mere dil me hamesa bani rahe bhagwan se

ab yehi mannat hai...

 

 

दोस्तों बहुत थक गया था

परवाह करते-करते

जब से लापरवाह हुआ हूं

आराम से हूं

 

 

दोस्त दूर हो फिर भी कोई गम नही होता।

प्यार में अक्सर कम हो जाती है दोस्ती ।

पर दोस्ती में प्यार कभी कम नही होता।

 

 

यू मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त,

क्यू गम को बॉट लेते हैं दोस्त,

न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है,

फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त…

 

 

लोग मन्जिल को मुश्किल समझते है,

हम मुश्किल को मन्जिल समझते है,

बडा फरक है लोगो मे ओर हम मै,

लोग जिन्दगी को दोस्त ओर

हम दोस्त को जिन्दगी समझते है.

 

 

ऐ यार जब भी तू दुखी होगा,

मेरा ख्याल तेरे नजदीक होगा,

दिल की गहराइयों से जब भी करोगे याद हमें,

तुम्हें हमारे करीब होने का एहसास होगा।

 

Related this sayari : शायरी दोस्ती की तारीफ Hindi